ads

Flash Back 2020 - ग्रहों की उलटी चाल ने दी महामारी की पीड़ा!

ग्रहों की गणना से विशेषज्ञों ने कोरोना महामारी को छह ग्रही गोल योग से जोड़कर बताया है। ग्रहों की उल्टी चाल के कारण ही कोरोना वायरस जैसी महामारी से देश में संकट आया ।

तारीख - 26. 01. 2020 -
शनि का मकर राशि में प्रवेश-
सूर्य, चंद्र, बुध, गुरु, शनि और केतु के धनु राशि में आने से गोल योग बना। भारत में 26 जनवरी को शनि मकर राशि में आए। राहु पहले से ही अशुभ था। ग्रह के ये योग कोरोना महामारी की पीड़ा दे गए।

तारीख - 21. 06. 2020 -
देश में दिखा खग्रास सूर्य ग्रहण -
2020 में छह ग्रहण हुए। इसमें चार चंद्र और दो सूर्य ग्रहण रहे। इसमें 21 जून को खग्रास सूर्य ग्रहण पूरे भारत में दिखाई दिया। अन्य ग्रहण आंशिक रूप से दिखे या दिखे ही नहीं, उनका प्रभाव भी कम रहा।

तारीख - 05. 08. 2020 -
रामलला के मंदिर की नींव रखी -
गुरु के मकर राशि में आने के प्रभाव से सैकड़ों वर्षों बाद अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की नींव रखने का ऐतिहासिक दिन आया। गुरु के कारण धर्म की पताका लहराई। सामाजिक समरसता को बढ़ावा मिला।

तारीख - 11 . 12 . 2020 -
एक महीने में चार ग्रहों ने बदली राशि -
साल के आखिरी महीने में चार ग्रहों का राशि परिवर्तन शुभ संकेत लेकर आया। 11 दिसंबर को शुक्र ने वृश्चिक राशि में, 15 को सूर्यग्रहण व राशि परिवर्तन, 17 को बुध और 24 को मंगल का राशि बदलना शुभ संकेत है।



Source Flash Back 2020 - ग्रहों की उलटी चाल ने दी महामारी की पीड़ा!
https://ift.tt/37MNEW9

Post a Comment

0 Comments