ads

ऑस्ट्रेलिया में सातवें विकेट के लिए ठाकुर-सुंदर के बीच रिकॉर्ड पार्टनरशिप, 30 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा

ब्रिस्बेन। शार्दूल ठाकुर और वॉशिंगटन सुंदर ने रविवार को गाबा इंटरनेशनल स्टेडियम में मुश्किल हालात में खेलते हुए शतकीय साझेदारी निभाई। ये दोनों ऑस्ट्रेलिया में सातवें विकेट के लिए शतकीय साझेदारी करने वाले चौथे भारतीय बन गई है। खास बात तो ये है कि इन दोनों ने 123 रन की साझेदारी कर करीब 30 साल पुराना रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है।

दोनों लगाया अपने करियर का पहला अर्धशतक
अपने करियर का पहला अर्धशतक लगाने वाले शार्दूल और सुंदर ने उस समय खेलना शुरू किया था, जब तीसरे दिन लंच के ठीक बाद भारत ने 186 रनों के कुल योग पर छठा विकेट गंवा दिया था। जहां शार्दुल ठाकुर ने 67 रन की शानदार पारी खेली। वहीं दूसरी ओर डेब्यु मैच में वाशिंगठन सुंदर ने 62 रन की शानदार पारी खेली।

यह भी पढ़ेंः- ऑस्ट्रेलिया में 72 साल के बाद वॉशिंगटन सुंदर ने बनाया रिकॉर्ड

मुश्किल वक्त में साझेदारी
ऑस्ट्रेलिया ने अपने पहली पारी में 369 रन बनाए थे और इस लिहाज से भारत बुरी तरह पिछड़ता दिखाई दे रहा था। आधी से ज्यादा टीम 186 रन पर आउट होने के बाद दोनों ने टीम कमान संभाली थी। उसके बाद दोनों ने मिलकर शानदार साझेदार की। दोनों ने मिलकर 217 गेंदों का सामना किया और 123 रन जोड़े। भारत की ओर से ऑस्ट्रेलिया में सातवें विकेट के लिए चौथी बड़ी साझेदारी है। दोनों ने करीब 30 साल पुराने 1991-92 सीरीज में मोहम्मद अजहरुद्दीन और मनोज प्रभाकर ने सातवें विकेट के लिए 101 रनों की साझेदारी के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है।

पंत और जडेजा की है सबसे बड़ी पार्टनरशिप
वैसे भारत की ओर से ऑस्ट्रेलिया में सातवें विकेट के लिए सबसे बड़ी पार्टनरशिप पंत और जडेजा की है। दोनों ने जनवरी 2019 सिडनी टेस्ट में 204 रन जोड़े थे। वहीं ऑस्ट्रेलिया में सातवें विकेट के लिए शतकीय साझेदारी का इससे पहले का अगला रिकॉर्ड काफी पुराना है। 1947-48 में जब आजाद भारत की टीम पहली बार विदेशी दौरे पर आस्ट्रेलिया गई थी तब विजय हजारे और हेमू अधिकारी ने एडिलेड में 132 रन जोड़े थे।



Source ऑस्ट्रेलिया में सातवें विकेट के लिए ठाकुर-सुंदर के बीच रिकॉर्ड पार्टनरशिप, 30 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा
https://ift.tt/2XNg5NT

Post a Comment

0 Comments