ads

Jaya Ekadashi 2021: जया एकादशी का शुभ मुहूर्त, पूजन विधि और व्रत का महत्व

नई दिल्ली। माघ शुक्ल पक्ष की एकादशी को जया एकादशी के नाम से जाना जाता है। इस बार जया एकादशी 23 फरवरी 2021 को है। एकादशी व्रत को सभी व्रतों में श्रेष्ठतम माना जाता है। हिन्दू धर्म में जया एकादशी व्रत का विशेष महत्व बताया गया है। धार्मिक मान्यता के अनुसार, यह व्रत करने से सभी तरह के पापों और भूत-प्रेत, पिशाच योनि से मुक्ति मिलती है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन भगवान विष्णु का व्रत रखा जाता है और मां लक्ष्मी को भी प्रसन्न करना चाहिए। मां लक्ष्मी अपनी कृपा बरसाती हैं और समस्त कष्टों से मुक्ति मिल जाती है। उनके घर में कभी भी अन और धन की कमी नहीं आती है। आइए जानते है शुभ मुहूर्त और पूजन विधि के बारे में।

जया एकादशी का महत्व
हिन्‍दू धर्म में माघ शुक्‍ल में आने वाली जया एकादशी का विशेष महत्‍व माना जाता है। मान्‍यता है कि इसका व्रत करने से मनुष्य ब्रह्म हत्यादि पापों से छूट कर मोक्ष को प्राप्त होता है। यही नहीं इसके प्रभाव से भूत, पिशाच आदि योनियों से भी मुक्त हो जाता है। इस दिन विधिपूर्वक व्रत करने और श्री हरि विष्‍णु की पूजा करने से व्‍यक्ति बुरी योनि से छूट जाता है। कहते हैं कि जिस मनुष्य ने इस एकादशी का व्रत किया है उसने मानो सब यज्ञ, जप, दान आदि कर लिए। जो लोग इस एकादशी का व्रत नहीं कर पाते हैं वह भी आज के दिन विष्णुसहस्रनाम का पाठ करें और जरुरतमंदों को दान दे तो इससे भी पुण्य की प्राप्ति होती है।

यह भी पढ़े :— नारियल के चमत्कारी उपायों से चुटकी में दूर होंगी सभी बाधाएं और होगी धन की वर्षा

जया एकादशी व्रत पूजा विधि....
— सुबह जल्दी उठें और स्नान करके स्वच्छ वस्त्र पहनें।
— अपनी पूजा स्थल को साफ करें और भगवान विष्णु व कृष्ण जी की मूर्ति स्थापित करें।
— विधि-विधान से भगवान विष्णु की पूजा करें।
— इस दौरान भजन और विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ भी जरूर करें।
— पीपल के पत्ते पर दूध और केसर से बनी मिठाई रखकर भगवान को चढ़ाएं।
— एकादशी की शाम तुलसी के पौधे के सामने दीपक जलाएं।
— भगवान विष्णु को केले चढ़ाएं और गरीबों को भी केले बांट दें।
— प्रसाद के तौर पर तुलसी, नारियल, जल, फल, अगरबत्ती और फूल व अन्य चीजें भगवान विष्णु को अर्पित करना ना भूलें।
— पूजा के दौरान मंत्र जाप जरूर करते रहें।
— द्वादशी की सुबह भोजन का सेवन करें। इससे पहले पारण करना न भूलें।

जया एकादशी मुहूर्त......
एकादशी तिथि प्रारंभ : 22 फरवरी सायं 05:16 बजे से
एकादशी तिथि समाप्त : 23 फरवरी सायं 06:05 बजे तक
जया एकादशी पारणा मुहूर्त : 24 फरवरी को सुबह 06:51 बजे से 09:09 बजे तक
अवधि : 2 घंटे 17 मिनट



Source Jaya Ekadashi 2021: जया एकादशी का शुभ मुहूर्त, पूजन विधि और व्रत का महत्व
https://ift.tt/3aJY36A

Post a Comment

0 Comments