ads

MAHA SHIVRATRI 2021: हर समस्या के लिए है एक विशेष निदान, 7 उपायों में से चुन लें आपके लिए क्या है जरूरी?

भगवान शिव यानि महादेव का प्रमुख पर्व महाशिवरात्रि इस बार 11 मार्च 2021, गुरुवार को पड़ रही है। सनातन धर्म में जहां महादेव को अत्यंत भोला माना गया है, वहीं इनके रौद्र रूप का भी कई धार्मिक पुस्तकों में व्याख्यान मौजूद है।

भगवान शंकर के अत्यंत भोले होने के कारण ही इन्हें भोलेनाथ भी कहा जाता है। मान्यता के अनुसार महादेव की उपासना से व्यक्ति की हर कामना पूर्ण हो सकती है। वहीं विवाह की बाधाअें के निवारण और आयु रक्षा के लिए महाशिवरात्रि के दिन भगवान शिव की उपासना अमोघ मानी गई है।

महाशिवरात्रि पर व्रत, पूजा पाठ, मंत्र जाप और रात्रि जागरण का विशेष महत्व माना जाता है। वहीं ज्योतिषीय गणना के अनुसार चतुर्दशी तिथि को चंद्रमा अपनी सबसे कमजोर अवस्था में पहुंच जाता है।

MUST READ : अद्भुत अविश्वसनीय - 5000 साल से शिवलिंग के रूप में यहां विराजते हैं भगवान शंकर

https://www.patrika.com/temples/lord-shankar-resides-here-as-shivling-for-5000-years-6705000/

इस साल यानि 2021 के महाशिवरात्रि का पर्व त्रयोदशी के बीच शुरू होकर चतुर्दशी में आ रहा है। यह योग 23 घंटे तक जारी रहेगा। नक्षत्र धनिष्ठा 11 मार्च को रात 09 बजकर 45 मिनट तक रहेगा उसके बाद शतभिषा नक्षत्र लग जाएगा। महाशिवरात्रि के दिन शिव योग 09 बजकर 24 मिनट तक, उसके बाद सिद्ध योग लग जाएगा।

शिव योग - Mar 10 10:36 AM – Mar 11 09:24 AM
सिद्ध योग - Mar 11 09:24 AM – Mar 12 08:29 AM

जबकि आज ही के दिन यानि 11 मार्च 2021 को दोपहर 12 बजकर 25 मिनट पर मकर राशि से निकलकर कुंभ राशि में प्रवेश करेगा। इसके बाद 31 मार्च 2021 तक यह कुम्भ राशि में ही स्थित रहेगा और फिर 1 अप्रैल को दोपहर 12 बजकर 33 मिनट पर मीन राशि में प्रवेश करेगा। इससे पहले 4 फरवरी,बृहस्पतिवार को 23:18 बजे बुध कुंभ से मकर में आए थे।

महाशिवरात्रि पर भगवान शंकर को ये चीजें करें अर्पित...
महाशिवरात्रि पर भगवान शिव शंकर को रोली, मौली, साबुत चावल, लौंग,इलायची, सुपारी, जायफल, पीला चंदन, केसर, पंचमेवा,हल्दी,मौसमी फल, नागकेसर जनेउ, कमलगट्टा,सप्तधान्य, सफेद मिठाई,नारियल, कुशा, अबीर, चंदन, गुलाब के फूल, आक धतूरा, भांग, धूप दीप आदि अर्पण करना चाहिए।

 MUST READ : महाशिवरात्रि के दिन भगवान शिव का जलाभिषेक और राशि अनुसार करें अराधना

https://www.patrika.com/dharma-karma/mahashivratri-2021-jalabhishek-timing-and-all-shubh-muhurat-6734574/

जानें महाशिवरात्रि के उपाय :

1. शिक्षा और मन की एकाग्रता के लिए...

: शिवरात्रि के दिन सुबह के समय भगवान शिव को दूध मिश्री मिलाकर जल अर्पित करें।
: इसकी एक धारा लगातार शिवलिंग पर चढ़ाते रहें।
: उस समय नम: शिवाय या 'शिव-शिव' का मन ही मन जाप करते रहें।
: शिवलिंग से स्पर्श कराके पांच-मुखी रुद्राक्ष कण्ठ में लाल धागे में धारण करें।

2. उत्तम स्वास्थ्य व आरोग्य के लिए...
: मिट्टी के दीए में गाय का घी भरकर उसमें कलावे की चार बाती लगाएं और उसमें कपूर रखकर जलाएं। इसके बाद भगवान शिव को जल में चावल दूध मिश्री आदि मिलाकर अर्पण कर दें।
: मंदिर में 'नम: शिवाय' का यथा शक्ति जाप करें।
: शिवजी से अच्छे स्वास्थ्य और लंबी आयु की प्रार्थना करें।

3. अच्छे रोजगार व मनचाही नौकरी के लिए...
: शिवरात्रि के दिन चांदी के लोटे की जलधारा से भगवान शिव का अभिषेक करें।
: उस समय मन ही मन 'नम: शिवाय' कहते रहें।
: भगवान शिव को सफेद फूल दोनों हाथों से अर्पित करते समय रोजगार प्राप्ति की प्रार्थना करें।
: संध्याकाल को शिव मंदिर में 11 घी के दीपक जलाएं।

4. धन प्राप्ति, बरकत और रूके धन के लिए...
: सुबह सूर्योदय से 1 घंटे के अंदर पंचामृत (दूध,दही, शहद,घी व शक्कर) से भगवान शिव का अभिषेक करें।
: यह समाग्री एक एक करके अर्पित करें, यानि एक साथ न मिलाएं।

: इसके बाद जलधारा अर्पित करें।
: 'ॐ पार्वतीपतये नम:' का 108 बार जाप करें।
: रूके धन प्राप्ति के लिए प्रार्थना करें और धन की बरकत की भी प्रार्थना करें।

5. उत्तम संतान प्राप्ति के लिए...
: पति पत्नी मिलकर शिवरात्रि के दिन शिवलिंग पर गाय का शुद्ध घर अर्पित करें।
: फिर शुद्धजल की धारा अर्पित करते हुए, संतान प्राप्ति के लिए प्रार्थना करें।
: यह प्रयोग पति पत्नी अलग अलग न करें, एक साथ करना ही उत्तम है।
: 11 साबुत बेलपत्र पर सफेद चंदन से राम राम लिखकर शिवलिंग पर अर्पित करें।

6. जल्द विवाह के लिए...
: शिवरात्रि के दिन शाम 5 से 6 बजे के बीच पीले वस्त्र धारण करके शिव मंदिर जाएं।
: यहां शिवलिंग पर उतने बेलपत्र चंदन लगाकर अर्पित करें जितनी आपकी उम्र है।
: बेलपत्र अर्पित करते समय नम: शिवाय कहते हुए बेलपत्र को शिवलिंग पर उल्टा अर्पित करें।
: वहीं पर गुग्गल की धूप जलाकर शिवलिंग को दिखएं और शीघ्र विवाह की प्रार्थना करें।

7. सुखद दाम्पत्य जीवन के लिए...
: पति पत्नी प्रदोष काल में स्वच्छ वस्त्र पहनकर शिव मंदिर जाएं।
: चांदी या स्टील के लोटे से एक साथ शिवलिंग पर कच्चा दूध अर्पित करें, उसके बाद गंगाजल अर्पित करते हुए शिव-शिव या नम: शिवाय का जाप करें।
: इसके बाद शिवलिंग पर गुलाब के 27 फूल अपने दायें हाथ ही अर्पित करें।
: गाय के शुद्ध घी का दीया जलाएं और गुग्गल की धूप दिखाएं।
: फिर दोनों हाथ जोड़कर सुखद वैवाहिक जीवन की प्रार्थना करें।
: घर आते समय किसी जरूरतमंद महिला को फल दान करें।



Source MAHA SHIVRATRI 2021: हर समस्या के लिए है एक विशेष निदान, 7 उपायों में से चुन लें आपके लिए क्या है जरूरी?
https://ift.tt/30wYISM

Post a Comment

0 Comments