ads

Chaitra Navratri 2021: नवरात्रि के वे कौन से 9 उपाय हैं, जो आपकी मनोकामना कर सकते हैं पूरी

नई दिल्ली। चैत्र नवरात्रि की शुरुआत आज (मंगलवार, 13 अप्रैल) से हो गई है, जो कि 22 तारीख तक रहेगी। नवरात्रि को शक्ति की साधना का सबसे बड़ा समय माना जाता है। हिन्दू धर्म शास्त्रों के मुताबिक, नवरात्रि को 9 दिनों में आद्यशक्ति मां दुर्गा के अलग-अलग 9 रूपों की विशेष पूजा आराधना की जाती है।

हर साल 4 नवरात्रि काल होते है, 2 गुप्त नवरात्र एवं एक आश्विन व एक चैत्र नवरात्र। इन चारों में सबसे ज्यादा महत्व चैत्र नवरात्र का होता है। नवरात्र के 9 दिनों में मां दुर्गा के 9 रूपों की विधि-विधान के साथ पूजा-अर्चना करने पर मनुष्य की हर परेशानी दूर होती है और मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। आइए जानते हैं कि नवरात्रि के 9 दिनों में ऐसे कौन-कौन से 9 उपाय करें, जिससे हर इच्छा पूर्ण हो और हर काम में सफलता मिले..

यह भी पढ़ें:- Chaitra Navratri 2021: नवरात्रि की पूजा में किन-किन सामग्री का होता है इस्तेमाल, देखिए पूरी लिस्ट

नवरात्र के पूरे 9 दिनों तक माता के इन 9 बीज मंत्रों का जप करने से 9 दिनों मां दुर्गा ये 9 कामनाएं पूरी कर देती हैं।

1- साधक के समस्त रोग नष्ट हो जाते है।
2- जीवन दीर्घ आयु होता है।
3- सभी प्रकार की ग्रह बाधा या भूत, प्रेत आदि की समस्त पीड़ा दूर हो जाती है।
4- निसंतान (बाँझ) स्त्री शीघ्र गर्भ धारण करती है।
5- साधक के घर में लक्ष्मी स्थिर हो जाती है।
6- धनकामी को धन, विद्यार्थी को विद्या, यशकामी के यश प्राप्त होने के अनेक मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं।
7- व्यापार, नौकरी में आने वाली बाधाएं दूर हो जाती है।
8- ग्रह क्लेश सदैव के लिए दूर हो जाते है।
9- बड़े से बड़े शत्रु भी मित्र बन जाते है।

9 दिनों तक मां दुर्गा के जपे जाने वाले 9 दिव्य शक्ति मंत्र

1- शैलपुत्री : ह्रीं शिवायै नम:।
2- ब्रह्मचारिणी : ह्रीं श्री अम्बिकायै नम:।
3- चन्द्रघंटा : ऐं श्रीं शक्तयै नम:।
4- कूष्मांडा ऐं ह्री देव्यै नम:।
5- स्कंदमाता : ह्रीं क्लीं स्वमिन्यै नम:।
6- कात्यायनी : क्लीं श्री त्रिनेत्रायै नम:।
7- कालरात्रि : क्लीं ऐं श्री कालिकायै नम:।
8- महागौरी : श्री क्लीं ह्रीं वरदायै नम:।
9- सिद्धिदात्री : ह्रीं क्लीं ऐं सिद्धये नम:।

उपरोक्त मंत्रों का जप करने से पहले जहां भी जप करें देवी मंदिर या फिर घर के ही पूजा स्थल पर गाय के घी दीपक जला लें, अब जल, लाल फूल, चावल (अक्षत) दाहिने हाथ में लेकर मां दुर्गा के 9 स्वरूपों का आवाह्न करें। इसके बाद तुलसी की माला से उपर दिये सभी मंत्रों को 108-108 बार 9 दिनों तक जप करें। आखरी दिन सभी मंत्रों 51-51 आहुति से हवन करें। मां सभी मनोकामनाएं पूरी कर देगी।

इन 9 उपायों से सभी मनोकामनाएं होंगी पूर्ण

1- नवरात्रि के समय मंगलवार के दिन हनुमान जी के सामने पान के पत्ते पर सिंदूर से श्री राम लिखकर अर्पित करें। इस बात का ध्यान रहे कि पान के पत्ते हनुमान जी के चरण में ना रखें। ऐसा करने से आपके कार्यों में आ रही सभी अड़चनें दूर होगी और आपकी जिंदगी में सुख-शांति और समृद्धि आएगा। हर कार्य में सफलता पाने के लिए इस नवरात्रि मौली खरीद कर उस पर नौ गांठ लगा कर देवी को समर्पित करें।

2- नवरात्रि में नौं दिनों तक लगातार पान के पत्ते पर केसर रखकर दुर्गा स्त्रोत और दुर्गा जी की नामावली का पाठ करें। ऐसा करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होगा और गृह क्लेश या कोई अन्य घरेलू परेशानी दूर होगी।

3- नवरात्रि में सुबह ब्रह्म मुहूर्त में 4 से 6 बजे के बीच में मां भुवनेश्वरी और सौभाग्यसुंदरी का ध्यान करें और पान के पत्ते की जड़ को घिसकर उसका तिलक करें। इस उपाय को करने से आपकी वाणी और खूबसूरती में वृद्धि होगी और आकर्षण शक्ति में बढ़ोतरी होगी।

यह भी पढ़ें :- Chaitra Navratri 2021: क्यों बदल जाते हैं हर बार मां के वाहन और क्या है उनका महत्व?

4- नवरात्रि के शुरुआती 5 दिनों में 1 पान के पत्ते पर ह्रीं लिखकर मां दुर्गा को अर्पित करें, इसके बाद महानवमी के बाद उन 5 पान के पत्तों को अपने पैसे रखने वाली जगह पर रख दें। इस उपाय को करने से दरिद्रता और घोर आर्थिक तंगी से छुटकारा मिलेगा। अपार धन संपत्ति के लिए नवरात्र के नौ दिनों में किन्नर से पैसा लेकर तिजोरी या पर्स में रख लें।

5- नवरात्रि में एक पान के पत्ते पर गुलाब की पंखुड़ियां रखकर मां दुर्गा को अर्पित करें। इससे धन के आगमन में सरलता आएगी और धन संबंधित किसी भी तरह की परेशानियां दूर होंगी।

6- नवरात्रि के मंगलवार के दिन एक साबूत पत्ता लेकर उसमें लौंग और इलायची रखें। उसका बीड़ा बना लें। हनुमान मंदिर में जाकर यह बीड़ा अर्पित कर दें। इससे आप कर्ज की समस्या से मुक्त हो जाएंगे।

7- नवरात्रि के समय पान के पत्ते पर दो लौंग रखकर दोनों हाथों से जल में प्रवाहित करें। ऐसा करने से जितनी भी पुरानी इच्छा होगी वो जल्द पूरी हो जाएगी। वर्षों पुरानी आपकी कोई भी ख्वाहिश जो अधूरी रह गई हो और आप उसे पूरा करना चाह रहे हैं वह पूरी होगी। साथ ही नवरात्रि के समय सौभाग्य में वृद्धि के लिए समस्त सुहाग शृंगार सामग्री खरीदें और काली मां को नवमी के दिन चढ़ाएं।

8- नौकरी में प्रमोशन या फिर व्यापार में बढ़ोतरी में अड़चने आ रही है तो नवरात्रि में ये उपाय जरुर करें- पान के पत्ते के दोनों तरफ सरसों का तेल लगाएं और इसे मां दुर्गा को अर्पित कर दें। इसके बाद पान के पत्ते को अपने सिर के पास रखकर सो जाएं। अगले दिन सुबह उठकर पान के पत्ते को किसी दुर्गा मंदिर के पीछे रख आएं। इसके अलावा आप 3 नारियल लाकर पहले घर में रखें और नवमी के दिन मंदिर में उसे चढ़ा दें। ऐसा करने से सभी बाधाएं दूर होंगी व कार्य में प्रगति आएगी।

9- व्यापार में सफलता प्राप्त करने के लिये नवरात्रि में नौं दिनों तक एक ही समय पर पान का बीड़ा मां दुर्गा के मंदिर में जाकर चढ़ाएं। इसके अलावा नवरात्रि के समय चांदी की कोई भी शुभ सामग्री लाकर देवी मां को समर्पित करें। आपको व्यापार में जरुर ही लाभ होगा। ध्यान रहे की हर दिन एक निश्चित समय पर ही जाएं, वरना लाभ नहीं होगा।



Source Chaitra Navratri 2021: नवरात्रि के वे कौन से 9 उपाय हैं, जो आपकी मनोकामना कर सकते हैं पूरी
https://ift.tt/3283Ttl

Post a Comment

0 Comments