ads

भरतीय महिला क्रिकेट टीम की स्टार खिलाड़ी शैफाली ने खेल में सुधार के लिए लिया पुरुषों के कैंप में हिस्सा

क्रिकेट के खेल में हर खिलाड़ी बेहतरीन प्रदर्शन करने की कोशिश करता है। इसके लिए वे अपनी तकनीक में सुधार करने की कोशिश करते हैं। साथ ही उनको खुद में जो कमी लगती है उसे भी दूर करने की कोशिश करते हैं। भारतीय महिला क्रिकेट टीम भी जल्द ही इंग्लैंड दौरे पर जाने वाली है। ऐसे में टीम की सलामी बल्लेबाज शैफाली शर्मा ने भी अपने खेल में सुधार करने के लिए एक अनोखा तरीका अपनाया। दरअसल, शैफाली को अपने बैकफुट के खेल में सुधार करने की आवश्यकता थी। इसके लिए शैफाली ने जो तरीका अपनाया, उसके बारे में जानकर आप भी हैरत में पड़ जाएंगे। हाल ही शैफाली ने एक अखबार को दिए इंटरव्यू में इस बारे में खुलासा किया।

पुरुषों के कैंप में लिया हिस्सा
शैफाली ने एक अखबार से बातचीत में बताया कि उन्होंने इंग्लैंड दौरे और आगामी दौरों को ध्यान में रखते हुए उन्होंने अपने बैकफुट के खेल पर काफी काम किया। इसके लिए शैफाली ने इस वर्ष पुरुषों की राष्ट्रीय टी20 ट्रॉफी सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए लगे कैंप में हिस्सा लिया। इस कैंप में शैफाली ने हरियाण रणजी ट्रॉफी के पुरुष गेंदबाजों के साथ अभ्यास किया। इससे उन्हें अपने खेल में सुधार में लाभ मिला। शैफाली का कहना है कि लगभग 140 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से गेंद डालने वाले राणजी गेंदबाजों का सामना करने से उनकी तकनीक में सुधार हुआ और आत्मविश्वास भी बढ़ा।

यह भी पढ़ें— धोनी के टिप्स से मिली महिला क्रिकेटर इंद्राणी को सफलता, अब इंग्लैंड दौरे पर आजमाएंगी उनके टिप्स

shafali_verma.png

हर्षल पटेल और राहुल तेवतिया से ली सलाह
शैफाली का कहना है कि उनका बैकफुट थोड़ा कमजोर था, लेकिन रणजी ट्रॉफी के गेंदबाजों का सामना करने से इसमें सुधार हुआ। उनका कहना है कि कैंप में ज्यादातर ऐसे गेंदबाज थे जिनकी गति करीब 140 किमी/घंटा थी। शैफाली ने बताया कि उन्होंने बाउंसरों से निपटने के लिए आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले गेंदबाज हर्षल पटेल और राहुल तेवतिया की सलाह ली। हर्षल पटेल आईपीएल 2021 के पहले चरण में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं।

यह भी पढ़ें— भारतीय महिला क्रिकेट टीम के नए मुख्य कोच रमेश पोवार पर कभी मिताली राज ने लगाए थे कॅरियर बर्बाद करने के आरोप

अनुभव साझा किए
साथ ही शैफाली ने बताया कि उन्होंने हर्षल पटेल और राहुल तेवतिया के अलावा मोहित शर्मा भी बाउंसरों से निपटने पर चर्चा की। शैफाली ने बताया कि उन्होंने इन खिलाड़ियों की सोच को समझने की कोशिश की। साथ ही इन तीनों खिलाड़ियों ने शैफाली के साथ अपने अनुभव और विचार भी साझा किए। महिला बल्लेबाज ने बताया कि तीनों खिलाड़ियों और उनके कोचों ने शैफाली की बैटिंग पर प्रतिक्रिया भी दी। शैफाली का कहना है कि वह हरियाणा क्रिकेट एसोसिएशन द्वारा दिए गए इस अवसर के लिए उनकी शुक्रगुजार हैं।



Source भरतीय महिला क्रिकेट टीम की स्टार खिलाड़ी शैफाली ने खेल में सुधार के लिए लिया पुरुषों के कैंप में हिस्सा
https://ift.tt/3fBcTP2

Post a Comment

0 Comments