ads

टोक्यो में इतिहास रच सकती है भारतीय महिला हॉकी टीम : हेलेन मैरी

 

नई दिल्ली। भारतीय महिला हाॅकी टीम की पूर्व गोलकीपर हेलेन मैरी का मानना है कि रानी की अगुवाई वाली भारतीय महिला हॉकी टीम टोक्यो ओलम्पिक में इतिहास रच सकती है। उन्होंने कहा कि भारतीय महिला हॉकी टीम ने पिछले तीन से चार वर्षों में प्रमुख टूर्नामेंटों में शानदार प्रदर्शन के साथ विश्व स्तर पर तेजी से प्रगति की है।

यह भी पढ़ें— 24 साल के बल्लेबाज की नेट सेशन के दौरान अचानक हुई मौत से सदमे में क्रिकेट जगत

मैरी ने एक बयान में कहा, 'भारतीय टीम भले ही दुनिया की नंबर 2 टीम के खिलाफ जीत दर्ज नहीं कर सकी, लेकिनउसने अर्जेंटीना के मैदानों पर उसके खिलाफ खेलते हुए जो शैली और आत्मविश्वास दिखाया वो मैंने पहले कभी नहीं देखा। रियो ओलंपिक से पहले भारतीय महिला टीम के साथ गोलकीपिंग कोच के रूप में काम करने वाली मैरी ने कहा कि रानी की अगुवाई वाली टीम को अपने खेल को बेहतर बनाने पर ध्यान देना चाहिए और जुलाई में होने वाले ओलंपिक खेलों से पहले के हफ्तों में आत्मविश्वास बनाए रखना चाहिए।

पूर्व गोलकीपिंग कोच ने ‘हॉकी ते चर्चा’ के दौरान कहा, 'जिस तरह से भारतीय टीम हाल ही में अर्जेंटीना और जर्मनी में खेली उसके मुताबिक मुझे लगता है कि वे 90 प्रतिशत तैयार है। आगामी हफ्तों में खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करेंगे और मुझे निश्चित रूप से विश्वास है कि वे टोक्यो में इतिहास रच सकते हैं। टोक्यो में तिरंगा ऊंची उड़ान भरेगा।

मैंने रानी और उनकी साथियों को पिछले कुछ वर्षों में सच में कड़ी मेहनत करते हुए देखा है और यहां तक कि जब वे ब्रेक पर होते हैं, तब भी मैंने उन्हें अपनी फिटनेस पर लगातार काम करते देखा है। वे बेहद केंद्रित हैं और वे बेहतर नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें मेरी एक ही सलाह है कि सुरक्षित रहें, क्योंकि वे अपने सपने को हासिल करने के बहुत करीब हैं।

यह भी पढ़ें—Ben Stokes ने किया साफ मना, राजस्थान रॉयल्स के लिए नहीं खेलेंगे IPL 2021 के बचे हुए मैच

मैरी ने इस दौरान हॉकी में अपनी यात्रा और देश के कुछ शीर्ष खिलाड़ियों को तैयार करने में महान खिलाड़ी एवं दिवंगत राष्ट्रीय कोच एमके कौशिक की भूमिका के बारे में भी बात की। मैरी ने कहा कि वह हमारे गॉडफादर हैं, जिन्होंने हमारा करियर बनाया।



Source टोक्यो में इतिहास रच सकती है भारतीय महिला हॉकी टीम : हेलेन मैरी
https://ift.tt/2RkUv3I

Post a Comment

0 Comments