ads

ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट ब्रियाना मैकनील पर लगा पांच साल का बैन, जानिए वजह

ओलंपिक 100 मीटर बाध दौड़ गोल्ड मेडलिस्ट ब्रियाना मैकनील पर पांच साल का बैन लगा दिया गया है। ब्रियाना पर यह बैन एंटी डोपिंग नियमों का उल्लंघन करने के पर लगाया गया है। एथलेटिक्स इंटेग्रिटी यूनिट (एआईयू) ने इस बात की जानकारी दी है। वहीं इससे पहले मैकनील इसी साल सस्पेंड हो चुकी थीं। दरअसल, ब्रियाना मैकनील को इस साल जनवरी में पहली बार एंटी-डोपिंग के नियमों का पालन ना करने के लिए सस्पेंड किया गया था। इससे पहले भी मैकनील एक साल का बैन लग चुका है। यह बैन भी उन पर लगातार तीन ड्रग्स टेस्ट मिस करने के लिए लगाया गया था।

अगस्त से लागू होगा बैन
ब्रियाना मैकनील पर अब जो पांच वर्ष का बैन लगाया गया है, वह अगस्त 2020 से लागू होगा। वहीं 2016 रियो ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतने वाली ब्रियाना ने किसी भी बैन पदार्थ के लिए पॉजिटिव पाए जाने से इनकार किया है। एथलेटिक्स इंटेग्रिटी यूनिट ने जानकारी देते हुए बताया कि बैन के फैसले के खिलाफ मैकनील ने कोर्ट ऑफ आर्बिट्रेशन ऑफ स्पोर्ट्स (सीएस) में अपील की है। उनकी अपील पर सुनवाई इस साल होने वाले ओलंपिक से पहले की जाएगी। टोक्यो ओलंपिक 23 जुलाई से शुरू होंगे।

यह भी पढ़ें— भारतीय पहलवान सुमित मलिक डोपिंग टेस्ट में फेल, ओलंपिक में शामिल होने पर संशय

2017 वर्ल्ड चैंपियनशिप में नहीं ले पाई थीं हिस्सा
मैकनील ने 2016 रियो ओलंपिक में गोल्ड मेडल अपने नाम किया था। इसके अलावा वर्ष 2013 में उन्होंने वर्ल्ड चैंपियनशिप भी जीती थी। हालांकि तीन ड्रग टेस्ट टेस्ट मिस करने पर एक मैकनील पर साल का का प्रतिबंध लगाया गया था, जिसकी वजह से वह 2017 वर्ल्ड चैंपियनशिप में हिस्सा नहीं ले पाई थीं।

भारतीय पहलवान भी हुए डोप टेस्ट में फेल
वहीं ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके भारत के फ्रीस्टाइल पहलवान सुमित मलिक भी डोप टेस्ट में फेल हो गए हैं। युनाइेड वर्ल्ड रेसलिंग द्वारा 6-9 मई तक बुल्गारिया के शहर सोफिया में आयोजित ओलंपिक क्वालीफायर के दौरान लिए गए डोप टेस्ट में नाकाम हो गए हैं। अब उनके ओलंपिक में शामिल होने को लेकर संशय है। दिल्ली के पहलवान सुमित ने सोफिया में ही 125 किग्रा फ्रीस्टाइल इवेंट के लिए ओलंपिक का टिकट हासिल किया था।



Source ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट ब्रियाना मैकनील पर लगा पांच साल का बैन, जानिए वजह
https://ift.tt/3cf3fzF

Post a Comment

0 Comments