ads

पीटी उषा के गुरु ओपी नंबियार का निधन, 2021 में पद्मश्री से हुए थे सम्मानित

नई दिल्ली। भारत की लेजेंड धाविका पीटी उषा के कोच ओ.एम. नांबियार का गुरुवार को निधन हो गया। वह 89 वर्ष के थे। केरल के कोझिकोड जिले के रहने वाले नांबियार ने एयर फोर्स के साथ करियर की शुरुआत की थी। उन्होंने उषा को काफी युवा अवस्था से ट्रेनिंग देनी शुरू की और उनके सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन पर पहुंचने में अहम भूमिका निभाई।

उषा ने अपने कोच के साथ फोटो का कोलाज पोस्ट कर ट्वीट किया, मेरे कोच, मेरे गुरु और मेरा मार्गदर्शन करने वाले का जाना मेरे जीवन को वो खालीपन छोड़ गया, जिसे कभी भरा नहीं जा सकता। मेरे जीवन में उनका क्या योगदान रहा है, इसे शब्दों से बयां नहीं किया जा सकता। आपको बहुत मिस करूंगी नांबियार सर।

 

नांबियार ही थे, जिन्होंने उषा को 1984 ओलंपिक से कुछ महीने पहले 400 मीटर हर्डल चुनने की सलाह दी थी। उनका मानना था कि उषा इसमें पदक जीत सकती हैं। लेकिन वह काफी कम अंतर से कांस्य पदक लाने से चूक गई थीं। नांबियार को इस साल पद्मश्री अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था। भारतीय एथलेटिक्स महासंघ ने नांबियार के निधन पर शोक व्यक्त किया है।

यह खबर भी पढ़ें:—दहशत में अफगानिस्तान की पूर्व महिला खिलाड़ी खालिदा, बोलीं-'खिलाड़ियों को अपनी यूनिफॉर्म को जला देना चाहिए'

बता दें कि ओपी नंबियार की कोचिंग में ही पीटी उषा देश की शीर्ष एथलीट बनीं। 1985 में जब पहली बार द्रोणाचार्य अवॉर्ड शुरू किया गया था, तब नंबियार और दो अन्य कोचों को इससे सम्मानित किया गया था। उन्हें खेलों में उनके योगदान के लिए 2021 यानी इसी साल पद्मश्री से भी सम्मानित किया गया था।



Source पीटी उषा के गुरु ओपी नंबियार का निधन, 2021 में पद्मश्री से हुए थे सम्मानित
https://ift.tt/3DaP3Uj

Post a Comment

0 Comments