ads

Tokyo Paralympics 2020: डिस्कस थ्रो में योगेश ने जीता सिल्वर, शूटिंग में मेडल से चूके महावीर स्वरूप

Tokyo Paralympics 2020: टोक्यो पैरालंपिक के छठे दिन भारतीय एथलीट्स ने शानदार प्रदर्शन करते हुए मेडल अपने नाम किए। जहां जेवलिन में देवेन्द्र ने सिल्वर मेडल जीता तो सुंदर सिंह ने कांस्य पदक अपने नाम किया। डिस्कस थ्रो में योगेश काथुनिया ने सिल्वर मेडल अपने नाम किया। शूटिंग में अवनि लखेरा ने भारत को गोल्ड मेडल दिलाया। वहीं भारतीय शूटर महावीर स्वरूप ने 10 मीटर एयर पिस्टल के फाइनल में अपनी जगह बनाई लेकिन मेडल से चूक गए। उन्होंने 615.2 पॉइंट के साथ 7वें नंबर पर रहते हुए फाइनल के लिए क्वालीफाई किया है।

महावीर स्वरूप उन्हालकर का 10 मीटर एयर पिस्टल के फाइनल मुकाबला में पहली सीरीज में 51.2 पॉइंट हासिल किए। वहीं दूसरी सीरीज में वह एक पायदान और ऊपर चढ़कर दूसरे नंबर पर पहुंच गए थे। हालांकि 17वें और 18वें प्रयास में महावीर फिसलकर चौथे स्थान पर आ गए और मेडल की रेस से बाहर हो गए। महावीर स्वरूप 10 मीटर के एयर पिस्टल स्पर्था में मेडल लेने से महज 0.3 पॉइंट से चूक गए और उनको चौथे नंबर पर रहकर संतोष करना पड़ा।

यह भी पढ़ें— Tokyo Paralympics 2020: शूटिंग में अवनि लखेरा ने दिलाया भारत को गोल्ड मेडल

डिस्कस थ्रो में योगेश ने जीता सिल्वर
भारत के योगेश काथुनिया ने टोक्यो पैरालम्पिक में शानदार प्रदर्शन करते हुए पुरुष डिस्कस थ्रो एफ56 वर्ग में रजत पदक जीता। योगेश ने फाइनल में 44.38 मीटर का थ्रो कर दूसरा स्थान हासिल किया। ब्राजील के सांतोस डोए क्लाउडिने बतिस्ता ने 45.59 मीटर का थ्रो कर नया पैरालम्पिक रिकॉर्ड बनाया और स्वर्ण पदक जीता।

यह भी पढ़ें— Tokyo Paralympics 2020: जेवलिन में भारत को मिले दो मेडल, देवेन्द्र ने जीता सिल्वर तो सुंदर सिंह ने ब्रॉन्ज

स्वर्ण पदक की दौड़ में थे योगेेश
क्यूबा के लियोनार्ड एलांडाना डियाज ने 43.36 मीटर के थ्रो के साथ कांस्य पदक जीता। 24 वर्षीय योगेश एक समय स्वर्ण पदक की दौड़ में थे लेकिन बतिस्ता ने अपने पहले थ्रो में 44.57 का थ्रो किया। बतिस्ता ने अपने छठे प्रयास में पैरालम्पिक खेल का रिकॉर्ड सेट किया। वहीं जेवलिन में भारत को दो मेडल मिले। देवेन्द्र ने सिल्वर मेडल अपने नाम किया। वहीं सुंदर सिंह गुर्जर ने ब्रॉन्ज मेडल जीता।



Source Tokyo Paralympics 2020: डिस्कस थ्रो में योगेश ने जीता सिल्वर, शूटिंग में मेडल से चूके महावीर स्वरूप
https://ift.tt/3mH5cLh

Post a Comment

0 Comments