ads

Tokyo Paralympics 2020: शॉट पुट और पावरलिफ्टिंग में भारत का निराशाजनक प्रदर्शन, टेक चंद और जयदीप पदक से चूके

टोक्यो पैरालंपिक 2020 के 65 किलोग्राम पावरलिफ्टिंग में भारत के जयदीप देसवाल से पदक की आस टूट गई है। वह फाइनल मुकाबले के तीन प्रयासों में टॉप 5 में भी जगह नहीं बना पाए। वह पहले प्रयास में जयदीप ने 160 किलोग्राम, दूसरे में फिर 160 किलोग्राम और तीसरे राउंड में 167 किलोग्राम वजन ही उठा पाए। इस तरह से वह फाइनल में पदक से चूक गए हैं। चीन की तरफ से खेल रहे खिलाड़ी लेई लियू ने 198 किग्रा की सर्वश्रेष्ठ लिफ्ट के साथ स्वर्ण पदक जीता और पावरलिफ्टिंग में लगातार चौथा पैरालंपिक स्वर्ण पदक हासिल किया है।

चीन के खिलाड़ी लेई लियू ने जीता गोल्ड मेडल
65 किलोग्राम वजन में चीन के खिलाड़ी लेई लियू ने 198 किलोग्राम वजन उठाकर स्वर्ण पदक जीता है। ईरान के अमीर जाफरी अरंगेही ने 195 किलोग्राम वजन उठाकर रजत तो अल्जीरिया के खिलाड़ी ने 92 किलोग्राम वजन उठाकर ब्रॉन्ज मेडल जीता है। भारत को जयदीप के फाइनल में पहुंचने के बाद मेडल की आस थी।

यह खबर भी पढ़ें:—नीरज का खुलासा: टोक्यो ओलंपिक में फाइनल से पहले पाकिस्तानी खिलाड़ी नदीम ने ले लिया था उनका जेवलिन

मेडल की रेस से बाहर हुए टेक चंद
भारतीय खिलाड़ी टेक चंद ने शॉट पुट एफ-55 के फाइनल में सबसे बेस्ट 9.04 मीटर का थ्रो किया। लेकिन यह मेडल के पर्याप्त नहीं था। टेक छह थ्रो में चार में फाउल कर गए। उन्होंने दूसरे प्रयास में 8.57 मीटर और चौथे प्रयास में 9.04 का थ्रो किया।



Source Tokyo Paralympics 2020: शॉट पुट और पावरलिफ्टिंग में भारत का निराशाजनक प्रदर्शन, टेक चंद और जयदीप पदक से चूके
https://ift.tt/3zr6Zrs

Post a Comment

0 Comments